मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।

Image
Mardana Shakti Badhaane ka Rambaan Upaaye मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।हरि ॐ 
1. अपने सेक्स जीवन के  रीसेट बटन को  दबाएं  यदि आप एक यौन कूट में युग्मित और अटक गए हैं, तो आप अके
ले नहीं हैं। जबकि सूखे मंत्र किसी भी रिश्ते का एक सामान्य हिस्सा हैं, यह अभी भी एक अनुभव करने वाले जोड़ों के लिए कोई सांत्वना नहीं है। "गर्ल सेक्स 101" के एलीसन मून लेखक हेल्थलाइन ने कहा, "परिचितता सेक्स ड्राइव की मौत है।" "जितना अधिक हम किसी के लिए अभ्यस्त होते हैं, उतना कम रोमांचक सेक्स हो जाता है।"

यहां कुछ त्वरित युक्तियां दी गई हैं - जिनमें से कुछ मैंने कोशिश की हैं - यदि आपके सेक्स जीवन में कमी है, तो जुनून को राज करने में मदद करने के लिए।

2. एक नए तरीके से अपने शरीर की ऊर्जा को मुक्त करें  "नाच जाओ या योग का प्रयास करो," चंद्रमा कहते हैं। "एक बार जब आप अपने स्वयं के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर लेते हैं, तो आप अपने साथी के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर सकते हैं।" एक सर्वेक्षण में पाया गया कि युग्मित लेकिन यौन रूप से निष्क्रिय लोग द…

पेट दर्द दूर करने के लिए घरेलू उपचार।

Pet Dard Dur Krne Ke Ghrelu Upchar

 पेट दर्द दूर करने के लिए घरेलू उपचार।

हरि ॐ

पेट दर्द एक आम समस्या है। इसके कई कारण हो सकते हैं। अगर आपको बार-बार पेट में दर्द होता है,

पेट दर्द
पेट दर्द 

 तो दवा खाने के बजाय घरेलू उपचार अपनाएं, क्योंकि पेट दर्द के लिए अत्यधिक दवा का सेवन आपके शरीर के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। आइए जानते हैं
पेट दर्द का घरेलु इलाज
आयुर्वेदिक मिश्रण
  • इस तरह पेट दर्द का इलाज करने के लिए सबसे पहले बड़ी हरड़, बड़ी पीपल, सोंठ, निशोथ और संचार लवण प्रत्येक 50-50 ग्राम इन सभी को लेकर कूट पीसकर तथा कपडे से अच्छे से छानकर चूर्ण बना लें। यह उदर शूल का “पंचसम चूर्ण” हैं। इससे पेट का तनाव तथा इसके सेवन से सभी तरह के पेट में होने वाले दर्द ठीक होते है। 
शुलान्तक टेबलेट
  • 2-3 टेबलेट को दिन में तीन चार बार लें। उदर शूल उदर में रहे दर्द के लिए यह अत्यंत उपयोगी होती हैं। 
हरा पोदीना
  • 10-12 बून्द हवा जल में मिलाकर दें. (अपचन, उदर शूल) अपच के कारण हो रहे दर्द और उदर में हो रहे दर्द के लिए यह सरल आयुर्वेदिक इलाज हैं। सिर्फ बून्द को हवा जल में मिलाकर देना होती हैं। 
  • शुक्तिमन टेबलेट
2-2 टेबलेट दिन में 3 बार दें, परिणाम शूल व आमाशयी शूल और अम्ल पित्तजन्य शूल यानी पेट के सभी तरह के दर्द में यह टेबलेट में लाभदायक होती हैं। अमाशय में हो रहे दर्द, अम्ल से हो रहे दर्द में, पित्त से हो रहे दर्द में आदि पेट के दाई बाई ऊपरी निचले भाग आदि सभी के इलाज में फायदेमन्द होती हैं। 
  • सरपंथिन टेबलेट
1-2 टेबलेट दिन में 3-4 बार सेवन करवाए। अमाशय के दर्द में यह बहुत ही फायदेमंद होती हैं। स आयुर्वेदिक टेबलेट से अमाशय में पेट दर्द का घरेलू उपचार बेहद लाभकारी सिद्ध होता हैं। 
  • शुलान्तक कैप्सूल
1-2 कैप्सूल दिन में 2-3 बार सेवन करे. यह भी उदर शूल के इलाज में अत्यंत असरकारी होता हैं। 
  • अग्नि बल्ल्भ क्षार
इलाज के लिए 1-2 चम्मच गर्म पानी से दिन में 2-3 बार सेवन करवाए। 
  • गैसांतक कैप्सूल
इलाज के लिए 1-2 कैप्सूल दिन में 2-3 बार दें. गैस के कारण हो रहे उदर शूल में बहुत फायदेमंद होता हैं। गैस के कारण होने वाले दर्द में लाभ देता हैं। 
  • शुलकेसरी कैप्सूल
1-2 शुलकेसरी कैप्सूल का दिन में 2-3 बार सेवन कराये. खासकर उदर शूल में लाभप्रद होता हैं। 
  • गेसरी लिक्विड
2-4 गर्म पानी में डालकर दें। गैस के वजह से हो रहे दर्द में अत्यंत लाभप्रद होती हैं। 
  • गैसक्लीन कैप्सूल
अजीर्ण, भूख न लगना, अफारा, पेट का भारीपन, पेट में गैस बनना आदि बंद कर देता हैं। यह पेट के दर्द में भी लाभदायक होता हैं. इसके सेवन से खाया गया भोजन ठीक से हजम होने लगता हैं। गैस के विकार, सुस्ती छाय रहना, शरीर में भारीपन महसूस होना आदि ख़त्म हो जाते हैं। यह पेट की खराब वायु को बाहर निकालने में भी बहुत फायदेमन्द हैं। इसके लिए 1-1 गैसक्लीन कैप्सूल सुबह और शाम को गुन-गुने पानी के साथ 2-3 बार सेवन कराये,
  • शुलान्तक कैप्सूल
उदर शूल, दन्त शूल, संधि शूल, मौसम में बदलाहट के वजह से हो रहे दर्द में, बारिश के पानी से भीगने से हो रहे बदन व सर दर्द में बहुत लाभ देती हैं। इसके लिए 1 शुलान्तक कैप्सूल को दर्द के समय गर्म पानी के साथ रोगी को सेवन करवाए। 
  • गैसक्लीन चूर्ण
भूख कम लगना, अफरा पेट में भारीपन, अजीर्ण, गैस बनना आदि में बहुत लाभ देता हैं। यह उदर में हो रहे दर्द को दूर करने के लिए भी लाभदायक होता हैं। इस चूर्ण की सेवन विधि इसके डिब्बे पर लिखी होती हैं. उसको पढ़कर सेवन करे। 

 पेट दर्द से छुटकारा पाने के कुछ घरेलू उपाय ...।
  1. तवे पर अजवायन डालकर पीस लें। इस चूर्ण को आधा चम्मच में लें और ठंडा पानी पिएं। पेट दर्द गायब हो जाएगा।
  2. अजवायन के चूर्ण में काला नमक मिलाकर गर्म पानी के साथ लेने से पेट का दर्द दूर होता है।
  3. सूखी अदरक को चूसने से भी पेट को आराम मिलता है।
  4. जीरा चबाने और तलने से भी पेट दर्द में राहत मिलती है।
  5. आधी कटोरी में हींग मिलाकर पेट पर पानी लगाने से आराम मिलता है।
  6. बिना दूध की चाय पीने से भी पेट दर्द ठीक हो जाता है।
  7. पुदीने की पत्तियों को उबालें। इस पानी को छानकर पिएं। पेट दर्द में लाभ होगा।
  8. गुनगुने पानी में नींबू डालकर पीने से भी पेट दर्द में राहत मिलती है।



अगर जवाब अच्छा लगा होतो कमेंट और शेयर अवश्य करें।





Comments

Popular posts from this blog

सोने से पहले हैप्पी कपल्स जरूर करे ये काम।

Tips To Take Full Night Complete Sleep: पूरी रात अच्छी और गहरी नींद कैसे ले ।

KSA के द्वारा इंटरव्यू क्रैक कैसे करें?