मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।

Image
Mardana Shakti Badhaane ka Rambaan Upaaye मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।हरि ॐ 
1. अपने सेक्स जीवन के  रीसेट बटन को  दबाएं  यदि आप एक यौन कूट में युग्मित और अटक गए हैं, तो आप अके
ले नहीं हैं। जबकि सूखे मंत्र किसी भी रिश्ते का एक सामान्य हिस्सा हैं, यह अभी भी एक अनुभव करने वाले जोड़ों के लिए कोई सांत्वना नहीं है। "गर्ल सेक्स 101" के एलीसन मून लेखक हेल्थलाइन ने कहा, "परिचितता सेक्स ड्राइव की मौत है।" "जितना अधिक हम किसी के लिए अभ्यस्त होते हैं, उतना कम रोमांचक सेक्स हो जाता है।"

यहां कुछ त्वरित युक्तियां दी गई हैं - जिनमें से कुछ मैंने कोशिश की हैं - यदि आपके सेक्स जीवन में कमी है, तो जुनून को राज करने में मदद करने के लिए।

2. एक नए तरीके से अपने शरीर की ऊर्जा को मुक्त करें  "नाच जाओ या योग का प्रयास करो," चंद्रमा कहते हैं। "एक बार जब आप अपने स्वयं के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर लेते हैं, तो आप अपने साथी के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर सकते हैं।" एक सर्वेक्षण में पाया गया कि युग्मित लेकिन यौन रूप से निष्क्रिय लोग द…

पीरियड्स के दर्द को कम कैसे करें।

Period Me Dard Km Kese Krey

पीरियड्स के दर्द को कम कैसे करें। 

हरि ॐ

खानपान की गलत आदते, बदलती जीवनशैली आदि के कारण आज महिलाओं में पीरियड्स के दिनों में दर्द की समस्या आम बात बन रही है। इसे डिसमेनोरिया (Dysmenorrhea) कहा जाता है जिसके २ प्रकार है। 


Periods
पीरियड दर्द 



ऐसे में अगर आप ऐसी चीजें लेते हैं जिनमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं तो आप पीरियड क्रैम्प्स और दर्द से राहत पा सकते हैं। ऐसी स्थिति में आप चाहें तो सामान्य दूध वाली चाय की जगह आप हर्बल चाय जैसे कैमोमाइल चाय, ग्रीन टी, मिंट टी, अदरक की चाय और तुलसी की चाय का सेवन कर सकते हैं।

1. प्राथमिक डिसमेनोरिया : पीरियड्स के दिनों में होनेवाला सामान्य दर्द
2. सेकण्डरी डिसमेनोरिया : जो प्रजनन अंगों के विकारों के परिणामस्वरूप होता है। दोनों प्रकार का इलाज किया जा सकता है।
कारण
गर्भाशय मांसपेशियों से बना हुआ है। पीरियड्स के दौरान इन मांसपेशियों में होनेवाले संकुचन के बढ़ने के कारण दर्द होता है। 
लक्षण
  • पेट के निचले भाग में दर्द (दर्द कई बार गंभीर हो सकता है)
  • पेट में दबाव महसूस होना
  • कूल्हों में, पीठ के निचले हिस्से, और भीतरी जांघों में दर्द
पीरिड्स के दर्द में राहत पाने के लिए कुछ आसान घरेलू तरीके है।
1. 1 चम्मच एलोवेरा जेल में 2 चुटकी काली मिर्च पाउडर डालकर दिन में 3 बार ले। 
2. जीरे को तवे पर अच्छे से भून ले। ठंडा होनेपर इसमें से 1 छोटा चम्मच भूना जीरा अच्छे से चबाकर खाये और उपर से 2 चम्मच एलो वेरा जूस पिए। 
3. सूखे अदरक और काली मिर्च की चाय पीना दर्द कम करने में सहायक होगा। यह पीरियड्स की अनियमितता को भी कम करता है।
4. आधा कप पानी में तुलसी के 7-8 पत्ते डालकर उबालें और छानकर उसका सेवन करें। इसमें मौजूद कैफीक एसिड दर्द में आराम पहुंचाता है।
5. 1 कप नारियल पानी में 1/2 चम्मच मिश्री या गुड़ मिलाकर दिन में २ बार खाने से पहले पिए। 
मसाज -
1. पेट के निचले हिस्से में तिल के तेल को हल्का गर्म कर उससे मसाज करे। ल के तेल में यह लिनोलिक एसिड, एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व एवं एंटी ऑक्सीडेंट तत्वों से भरपूर है, जो उन दिनों के दर्द में निजात दिला सकता है।
2. अरंडी का तेल और सरसों का तेल, दोनों को समान मात्रा में ले कर मसाज के लिए इस्तेमाल करे। 
योग -
नियमित योगाभ्यास, पीरियड्स के दौरान होनेवाली दर्द, चिंता, कब्ज जैसी शिकायतों को दूर करने के लिए फयदेमंद है। मत्स्यासन, भुजंगासन, धनुरासन, शलभासन, वज्रासन इन आसनों का महिनाभर नियमित अभ्यास करे। पिरोइड्स शुरू होने पर केवल प्राणायाम, ध्यान करे। 
पीरियड्स के दौरान किसी भी तरह की कठोर शारीरिक और मानसिक गतिविधि से बचें।
डॉ वैद्याज की Cycloherb कैप्सूल, 32 प्रभावी औषधियों से बनी है जो पीरियड्स से संबंधित दर्द, अनियमितता को दूर करने के लिए उपयुक्त है। दर्द ज्यादा हो तो डॉक्टर की सलाह अवश्य ले। 

कृप्या करके कमेंट और शेयर करना ना भूलें। 



Comments

Popular posts from this blog

सोने से पहले हैप्पी कपल्स जरूर करे ये काम।

Tips To Take Full Night Complete Sleep: पूरी रात अच्छी और गहरी नींद कैसे ले ।

KSA के द्वारा इंटरव्यू क्रैक कैसे करें?