मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।

Image
Mardana Shakti Badhaane ka Rambaan Upaaye मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।हरि ॐ 
1. अपने सेक्स जीवन के  रीसेट बटन को  दबाएं  यदि आप एक यौन कूट में युग्मित और अटक गए हैं, तो आप अके
ले नहीं हैं। जबकि सूखे मंत्र किसी भी रिश्ते का एक सामान्य हिस्सा हैं, यह अभी भी एक अनुभव करने वाले जोड़ों के लिए कोई सांत्वना नहीं है। "गर्ल सेक्स 101" के एलीसन मून लेखक हेल्थलाइन ने कहा, "परिचितता सेक्स ड्राइव की मौत है।" "जितना अधिक हम किसी के लिए अभ्यस्त होते हैं, उतना कम रोमांचक सेक्स हो जाता है।"

यहां कुछ त्वरित युक्तियां दी गई हैं - जिनमें से कुछ मैंने कोशिश की हैं - यदि आपके सेक्स जीवन में कमी है, तो जुनून को राज करने में मदद करने के लिए।

2. एक नए तरीके से अपने शरीर की ऊर्जा को मुक्त करें  "नाच जाओ या योग का प्रयास करो," चंद्रमा कहते हैं। "एक बार जब आप अपने स्वयं के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर लेते हैं, तो आप अपने साथी के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर सकते हैं।" एक सर्वेक्षण में पाया गया कि युग्मित लेकिन यौन रूप से निष्क्रिय लोग द…

पाचन शक्ति मजबूत करने का रामबाण ईलाज।

Paachan Shakti Majboot Krne Ka Rambaan Ilaaj 

पाचन शक्ति मजबूत करने का रामबाण ईलाज।

हरि ॐ

आपने अक्सर यह सुना होगा कि सब बीमारियों की शुरुआत पेट से ही होती है और यह तथ्य बहुत हद तक सही है भी! जैसा हम भोजन करते हैं वैसा ही महसूस करते हैं और वैसा व्यवहार भी करने लगते हैं।
नोबेल पुरस्कार विजेता मेतचनिकोफ ने एक बार कहा था- "इंसान की मृत्यु उसके पेट से ही शुरू होती है"। 19वीं शताब्दी में उन्होंने यह पता लगाया था कि बीमारी और जल्दी बुढ़ापे का कारण पेट में पनप रहे खतरनाक बैक्टीरिया होते हैं।


Paachan Shakti
पाचन शक्ति 


आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में, कीटनाशक वाली सब्जियां, केमिकल युक्त भोजन शरीर के अंदर जाता ही रहता है। बहुत से लोग सही जानकारी ना होने के कारण अपने पेट को स्वस्थ नहीं रख पाते हैं। 
शरीर को बीमारियों से लड़ने के लिए 75% रोग प्रतिरोधक क्षमता पेट से ही मिलती है। यानी की बीमारियों से लड़ने की क्षमता पेट ही देता है ।अगर पेट ही स्वस्थ नहीं होगा तो हम भी स्वस्थ नहीं होंगे।

1. अधिक मात्रा में पानी पीये – हमारे लिए पानी बहुमूल्य है। अधिकतर लोग बहुत कम पानी पीते है। हमें एक दिन में लगभग 2-4 लीटर पानी पीना चाहिए। अगर आपका पाचन तन्त्र ठीक नहीं है तो आप इसे अधिक पानी भी पी सकते है। यह हमारे शरीर में पानी की मात्रा को पूरा करता है जिससे भोजन को पचने में आसानी होती है।इसलिए पानी पीये और भरपूर पीये। 
2. अपनी दिनचर्या सही रखे – मनुष्य के लिए एक अच्छी दिनचर्या का होना बहुत आवश्यक है। अगर आपकी दिनचर्या संतुलित नहीं है तो आपको दिनभर कई छोटी – छोटी समस्याओ का सामना करना पड़ेगा। पाचनतंत्र को आप बेहतर दिनचर्या से दूर कर सकते हो। सुबह से लेकर रात सोने तक अपनी दिनचर्या सही रखे। सही समय पर अपना भोजन ले। अगर आपका daily routine ठीक होगा तो आपका शरीर भी उसी अनुसार चलता रहेगा. जिससे पाचन तन्त्र भी दुरुस्त हो जाएगी। 
3. रात को जल्दी सो जाए- कई लोग काम के चलते और कई अपनी बुरी दिनचर्या के कारण देर रात जगे रहते है। वे जल्दी सोते नहीं और सुबह लेट में उठते है। देर रात तक जगे रहने से पाचन तन्त्र पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। इसलिए रात को भोजन करने के बाद सो जाए। अगर देर रात तक जगे रहोगे तो आपका पाचन तंत्र का ख़राब होना तय है।इससे बचने का उपाय है की रात को देर से सोने की आदत को बदला जाए। 
4. गहरी और अच्छी नींद ले – नींद का हमारे शरीर से गहरा नाता है। जिस तरह हमारे लिए भोजन करना जरुरी है ठीक उसी तरह हमारे लिए नींद भी जरुरी है। बिना अच्छी नींद के अच्छे स्वास्थ्य की कल्पना करना भी मुश्किल है। कई लोग खुद को ओवर स्मार्ट समझते है और सोचते है की कम नींद लेने पर भी वे खुद को फिट रख सकते है। आप कुछ दिन तक तो ऐसा कर सकते हो पर long time में आपकी health ख़राब हो ही जाएगी। क दिन में इसलिए 8 से 9 घंटे की अच्छी नींद जरुर ले।
5. तनाव को करे दूर – तनाव आज लोगो का बहुत बड़ा दुश्मन बन गया है। तनाव आदमी को अन्दर ही अन्दर दीमक की तरह खोखला कर देता है। जिससे व्यक्ति कई रोगों से घिर जाता है। अधिक तनाव लेने से पाचन तन्त्र ख़राब हो जाता है। 
6. अधिक खाना खाने से बचे – आवश्यकता से अधिक भोजन लेना हमारे स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं होता। अधिक खाने से हमें अपच हो सकती है। जितनी भूख हो हमें उतना ही खाना चहिये। कई बार लोग स्वाद के चक्कर में अधिक खाना खा लेते है और बाद में उन्हें पछताना पड़ता है। आप ऐसा न करे. खाने से ज्यादा प्राथमिकता अपने शरीर को दे। अधिक खाना लेने से हमारे पाचन तन्त्र पर अधिक दबाव पड़ता है जो की उचित नहीं है। सा करने से इसलिए बचे। 
7. हमेशा बैठे – बैठे काम न करे- अगर आपका काम ऑफिस का है, आपको कंप्यूटर के आगे या कुर्सी पर बैठकर काम करना पड़ता है तो आप बीच – बीच में ब्रेक लेते रहे. अगर आपको लगातार काम करना होता है तो हर दो घंटे में कुछ मिनट निकाल कर थोड़ा टहल ले। बैठे रहने से हमारा भोजन पच नहीं पाता फलस्वरूप हमारे पाचन तन्त्र के लिए इसे हैंडल कर पाना मुश्किल हो जाता है। 
8. ऑयली खाने से परहेज करे – ज्यो – ज्यो हमारी उम्र बढती जाती है।हमारे लिए ऑयली खाने को पचा पाना मुश्किल होने लग जाता है। अगर हम Oily खाना ज्यादा खा लेते है तो इससे हमें उल्टी, अपच और खट्टी डकारे हो सकती है। इनसे बचने के लिए जरुरी है कि इन चीजो को बहुत ही कम मात्रा में खायें। ऑयली खाना पचा पाना थोड़ा मुश्किल रहता है। इसलिए अपने पाचन तंत्र की मदद करे और तैलीय खाना कम ही खाएं। 
9. शारारिक कार्य जरुर करे – अधिकतर पाचन तन्त्र ख़राब उन्ही लोगो का होता है जो शारारिक काम नहीं करते है। ऐसे बहुत से लोग होते है जिनका काम शारारिक नहीं होता। ऐसे लोग अपनी दिनचर्या में कुछ शारारिक काम कर सकते है। अगर काम नहीं है तो वे सुबह उठकर टहल सकते है. पैदल घूम सकते है या दौड़ लगा सकते है। इसके अलावा कोई स्पोर्ट्स या साइकिलिंग कर सकते है। 
10. सही समय पर रोजाना भोजन करे – सही समय पर भोजन करना अच्छी सेहत की निशानी होती है। ब्रेकफास्ट से लेकर डिनर तक आपका खाना खाने का time निश्चित होना चाहिए। हमारा शरीर हमारे डेली रूटीन के हिसाब से खुद को ढाल लेता है। अगर हम कभी 1 घंटे पहले कभी एक घंटे बाद खाना खाये तो हमारा भोजन रोज अनियमित हो जाएगा। 
जो हमारे पाचन तन्त्र को गड़बड़ा देता है। माना आप सुबह 8 बजे अपना Breakfast लेते हो तो रोज उसी time पर ले। ऐसा हो Lunch और dinner पर भी करे।






Comments

Popular posts from this blog

सोने से पहले हैप्पी कपल्स जरूर करे ये काम।

Tips To Take Full Night Complete Sleep: पूरी रात अच्छी और गहरी नींद कैसे ले ।

KSA के द्वारा इंटरव्यू क्रैक कैसे करें?