मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।

Image
Mardana Shakti Badhaane ka Rambaan Upaaye मर्दाना शक्ति बढाने के लिए बेहतरीन उपाय।हरि ॐ 
1. अपने सेक्स जीवन के  रीसेट बटन को  दबाएं  यदि आप एक यौन कूट में युग्मित और अटक गए हैं, तो आप अके
ले नहीं हैं। जबकि सूखे मंत्र किसी भी रिश्ते का एक सामान्य हिस्सा हैं, यह अभी भी एक अनुभव करने वाले जोड़ों के लिए कोई सांत्वना नहीं है। "गर्ल सेक्स 101" के एलीसन मून लेखक हेल्थलाइन ने कहा, "परिचितता सेक्स ड्राइव की मौत है।" "जितना अधिक हम किसी के लिए अभ्यस्त होते हैं, उतना कम रोमांचक सेक्स हो जाता है।"

यहां कुछ त्वरित युक्तियां दी गई हैं - जिनमें से कुछ मैंने कोशिश की हैं - यदि आपके सेक्स जीवन में कमी है, तो जुनून को राज करने में मदद करने के लिए।

2. एक नए तरीके से अपने शरीर की ऊर्जा को मुक्त करें  "नाच जाओ या योग का प्रयास करो," चंद्रमा कहते हैं। "एक बार जब आप अपने स्वयं के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर लेते हैं, तो आप अपने साथी के शरीर के साथ अपने संबंध की पुष्टि कर सकते हैं।" एक सर्वेक्षण में पाया गया कि युग्मित लेकिन यौन रूप से निष्क्रिय लोग द…

अस्थमा का रामबाण ईलाज।

Asthma Ka Rambaan Ilaaj 

अस्थमा का रामबाण ईलाज। 

हरि ॐ

        अस्थमा को जड़ से खत्म करने का सबसे आसान उपाय
अस्थमा एक सांस की बीमारी है। और इसे दमा भी कहते है। अस्थमा के मरीज को सांस लेने मे दिक्कत होने लगती है। इसीलिए वो भाग दौड़, खेल कूद या जादा काम नहीं कर सकते क्योकि इससे उनकी सांस फूलने लगेगी। 

Asthma
अस्थमा 

अस्थमा के मरीज खुल कर सांस नहीं ले पाते। और अपनी पूरी जिंदगी दवाइयों के सहारे घुट घुट कर जीते है। और आज कल के बढ़ते प्रदूषण के कारण ये बीमारी भी बढ़ती जा रही है। ये बीमारी कब और कैसे होती है इसका पता नहीं चलता। इसीलिए आज हम अस्थमा के बारे जानेंगे। अस्थमा होने का कारण, इलाज और इससे बचने के तरीकों के बारे में भी जानेंगे। 

क्या है अस्थमा?
हमारे फेफड़े मे स्वास की नलिका बहुत पतली और नाजुक होती है। जिसके ब्लॉक होने की संभावना जादा रहती है। स्वास नलिका के सूज जाने या ब्लॉक हो जाने के कारण जब सांस लेने मे दिक्कत होने लगती है, उसे ही अस्थमा कहा जाता है। इसका अनुभव आपने कई बार किया होगा। जब आपको सर्दी जुकाम होता है और नाक जाम हो जाता है, तब आपको सांस लेने मे दिक्कत होने लगती है। तब आप खुल कर सांस नहीं ले पाते जिससे आपको चिड़चिड़ा पन होने लगता है, दिमाग भी खराब हो जाता है, रात को नींद पूरी नहीं हो पाती और आप उसके लिए कुछ कर भी नहीं पाते। बस ऐसा ही तकलीफ अस्थमा के मरीज को हर रोज और पूरी जिंदगी भर झेलना पड़ता है। और अस्थमा के अटैक के वजह से मौत भी हो सकती है। सीलिए इस बीमारी को आप हल्के मे न लें। 

अस्थमा के कारण
अस्थमा की बीमारी कई कारणों से हो सकती है। जैसे की जादा प्रदूषण से, किसी चीज से होने वाली एलर्जी से, बार बार होने वाली सर्दी जुकाम से, जादा मेहनत या कसरत करने से आदि। इसीलिए कभी भी जादा प्रदूषण मे न रहे। जिस चीज से एलर्जी हो उससे दूर रहे. रोज अदरक, लहसुन, प्याज आदि जैसे गर्म पदार्थो का सेवन करते रहे। और जादा कसरत या मेहनत भी न करें। जादा एलोपैथिक दवा लेने से भी अस्थमा की बीमारी होती है। तो जादा एलोपैथिक दवा भी न लें। अस्थमा की बीमारी किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है। फिर चाहे वो बच्चा हो या बूढ़ा. बच्चो को अस्थमा होने की संभावना जादा होती है। क्यों की उनके फेफड़े और स्वास नलिका कमजोर होती है। इसीलिए बच्चो को जब भी सर्दी जुकाम हो तो बड़ो को उनपर ध्यान देना चाहिए और इलाज करना चाहिए। वैसे तो अस्थमा की बीमारी जल्दी ठीक नहीं होती और इसका इलाज भी बहुत महंगा होता है। पर आप कुछ घरेलु उपचार से अस्थमा की बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते है। और घरेलू इलाज ही इस बीमारी का सबसे अच्छा इलाज है। 

अस्थमा के घरेलू उपचार
  • इस नुस्खे के लिए आप 1 प्याज, आधी उंगली के बराबर अदरक का टुकड़ा और 10 तुलसी के पत्तों को मिक्सर मे पीस कर चटनी बना ले. फिर इस चटनी को कपड़े से छान कर उसका रस अलग कर लें। अब रोज सुबह आधा ग्लास गर्म पानी मे 3 चम्मच तैयार रस और 1 चम्मच शहद मिलाकर पी लें। ऐसा रोज करें. मात्र 3 महीने में आपको काफी फायदा होगा। 
  • रोज पालक और गाजर के रस को मिलाकर पिएं. और रोज गुड का सेवन भी करे। 
  • जादा तीखा मसालेदार और बाहर का अनहाइजेनिक खाना न खाएं. क्योकि हमारे गलत खान पान के वजह भी बीमारियाँ पैदा होती है. और धुम्रपान शराब आदि जैसे नशीली पदार्थों को तो भूल ही जाएँ. ये नशीले पदार्थ इस बीमारी को बहुत तेजी से बढाते है। 
  • रोज सुबह ताजी हवा मे व्यायाम करें और साथ में अनुलोम विलोम और भस्त्रिका प्राणायाम भी जरूर करें। ससे स्वच्छ हवा फेफड़े मे जाएगी और श्वास नलिका से सारे कचरे बाहर निकल जाएँगे। 
ये कुछ उपाय है। ऐसे ही कई और उपाय भी है पर ये उपाय सबसे अच्छा है। इससे आपको जरूर फायदा होगा। इन चारों उपायों को आपको रोज करना है। ससे आपके अस्थमा की समस्या 3 महीने में ही खत्म हो जाएगी। और अगर आप रोज अदरक और काली मरीच वाली काली चाय पीते है, कच्चा लहसुन और प्याज खाते है। तो आपको अस्थमा की बीमारी कभी नहीं होगी। और हमेशा गर्म पदार्थो का सेवन करें. अपने शरीर को गर्म रखे. प्रदूषण से बचे। और अपने शरीर के साथ कोई जबर्दस्ती काम न करें जिससे नुकसान हो। अगर आप इन बातों को फॉलो नहीं करेंगे तो आपको अस्थमा ही नहीं बल्कि कई और बीमारियाँ भी हो सकती है। इसीलिए हमेशा अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना चाहिए और रोज थोड़ा समय अपने स्वास्थ्य के लिए जरूर देना चाहिए। 

कृप्य ककरके शेयर और कमेंट करना ना भूलें। 



Comments

Popular posts from this blog

सोने से पहले हैप्पी कपल्स जरूर करे ये काम।

KSA के द्वारा इंटरव्यू क्रैक कैसे करें?

Tips To Take Full Night Complete Sleep: पूरी रात अच्छी और गहरी नींद कैसे ले ।